Full width home advertisement

Tips&Tricks

Latest News

Post Page Advertisement [Top]

Due to Jio, Idea felt suffered hundreds of crores, suffered loss



टेलीकॉम सेक्टर में छिड़े प्राइस वार के चलते टेलीकॉम कंपनी Idea को भारी नुकसान सहना पड़ा है. आइडिया सेल्यूलर को मार्च में समाप्त चौथी तिमाही में 325.6 करोड़ रुपये का कुल घाटा हुआ है. जबकि, इससे पिछले फायनेंशियल इयर की इसी तिमाही में उसे 449.2 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था.
कंपनी ने एक बयान में बताया कि उसे लगातार दूसरी तिमाही में घाटा हुआ है. इससे पहले अक्टूबर-दिसंबर 2016 तिमाही में भी कंपनी को 383.87 करोड़ रुपये का एकीकृत शुद्ध घाटा हुआ था. जबकि इससे पहले अक्टूबर-दिसंबर 2015 में उसे 659.35 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था. समीक्षावधि में कंपनी का कुल राजस्व 13.7 प्रतिशत घटकर 8,194.5 करोड़ रुपये रहा जो इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में 9,500.7 करोड़ रुपये था.
कंपनी को पहली बार वार्षिक आधार पर भी एकीकृत घाटा हुआ है जो वित्त वर्ष 2016-17 में 404 करोड़ रुपये रहा है जबकि वित्त वर्ष 2015-16 में कंपनी को 2,174.2 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था. इस दौरान कंपनी की वार्षिक आय भी घटकर 35,882.7 करोड़ रुपये रह गई जो इससे पिछले वित्त वर्ष में 36,162.5 करोड़ रपये रही थी.
आइडिया सेल्यूलर ने एक बयान में कहा है कि अक्टूबर से अप्रैल 2017 की अवधि को दूरसंचार क्षेत्र में अलगाव का समय माना जाना चाहिये, जिसमें दूरसंचार कारोबार के मानदंडों में स्थायी तौर पर बदलाव आया है. गौरतलब है कि पिछले साल सितंबर में रिलायंस जियो ने भारतीय दूरसंचार बाजार में कदम रखा. रिलायंस जियो ने वॉयस कॉल और 4G सेवाओं की निशुल्क शुरुआत की और इस साल मार्च तक अपने फ्री ऑफर्स जारी रखा.
Telecom company Idea suffered heavy loss due to price war in telecom sector. Idea Cellular has reported a total loss of Rs 325.6 crore in the fourth quarter ended March. However, from this, the previous financial year saw a net profit of Rs 449.2 crore in the same quarter.
The company said in a statement that it has suffered losses in the second quarter. Earlier, in the October-December 2016 quarter, the company had an integrated net loss of Rs 383.87 crore. Earlier, in October-December 2015, it had a net profit of Rs 659.35 crore. Total revenue of the company declined by 13.7 percent to Rs 8,194.5 crore in the review period, from Rs 9,500.7 crore in the corresponding quarter of the previous fiscal.
For the first time, the company has also had an integrated deficit on the annual basis, which has been Rs 404 crore in the financial year 2016-17, whereas in the financial year 2015-16, the company had a profit of Rs 2,174.2 crore. During this period, the company's annual income also declined to Rs 35,882.7 crore, from Rs 36,162.5 crore in the previous financial year.
Idea Cellular said in a statement that the period from October to April 2017 should be considered as a time of separation in the telecom sector, in which telecommunication business norms have changed permanently. Significantly, in September last year, Reliance Jio stepped in to the Indian telecom market. Reliance Jio started free of voice calls and 4G services and continued its free offers till March this year.

No comments:

Post a Comment

Bottom Ad [Post Page]

| Designed by FreeContant